loading

मीन राशि (Pisces)

  • Home
  • मीन राशि (Pisces)

मीन राशि (Pisces) (दि, दु, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, चि)

जनवरी- गुरु का संचार रहने से पराक्रम एवं उत्साह में वृद्धि होगी। परिवार में वि शुभ कार्य पर खर्च होगा। तारीख 17 से शनि साढ़ेसाती शुरू होने से मानसिक तनाव ,उलझनपूर्ण परिस्थितियां उत्पन्न होंगी। अकस्मात् धन लाभ में विघ्न उत्पन्न होंगे।

फरवरी-धर्म-कर्म में विशेष प्रवृत्ति और मान-सम्मान में वृद्धि होगी। भाई-बहिन से मेल व परिवार में खुशी और उल्लासपूर्ण माहौल रहेगा। गत दिनों किए प्रयासों में सफलता मिलेगी। धन लाभ व उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे।

मार्च- कोई शुभ सम्पन्न होगा। व्यवसाय-नौकरी में उन्नति होगी। कठिन में सफलता प्राप्त होगी। कार्यक्षेत्र में व्यस्तताएं बढ़ेंगी। परिवार सम्बन्धी सुखों में वृद्धि 1 अकस्मात् धन प्राप्ति के योग हैं।

अप्रैल – विघ्न-बाधाओं के बावजूद प्रयोजन सिद्धि में कोई रुकावट नहीं आएगी। के मार्ग प्रशस्त होंगे। कुछ अप्रत्याशित सफलताएं प्राप्त होंगी। अकस्मात् धन लाभ, मिलाप, स्त्री सुख आदि शुभ समाचार मिलेंगे।

मई – गुरु द्वितीय भाव में राहु युक्त संचार करने से आय की अपेक्षा खर्च अधिक की दौड़धूप और क्रोध की अधिकता के कारण कार्य बिगड़ने के योग हैं। मानसिक और प्रियबन्धु से मनमुटाव होगा।

जून-परिश्रम पहनी। फिर भी निर्वाह योग्य धन की प्राप्ति होगी। में उतरा। सिरदर्द तथा आँखों में कष्ट रहे। घरेलु व्यवसायी रहेगा।
जुन्नाई-मानसिक समान एवं परिकार उलझने बगी बनते कामों में अड़चनें या होगी। गुरु की दशम भाव पर दृष्टि होने से पदोनति एवं धन लाभ के योग बनेंगे। किसी श्रेष्ठ एवं इधिकारी बड़ेगा।

अगस्त-परिश्रम व दौड़-धराय में उतार-चढ़ाव व अन्य परेशानियां ही स्थान परिवर्तन भी होने के योग हैं। कुछ विवादास्पद मामले मानसिक तनाव का कारण बनेगे। ‘पुरुषोजय माहातय का पाठ करें।

सितम्बर-संघर्षमयी स्थितियों का सामना करना पड़ेगा। किसी भी कार्य में मन नहीं लगेगा। गृहस्थ जीवन में तनाव की स्थिति रहे। खर्च की अधिकता से मन परेशान रहेगा।विदेश गमन को योजना बनेगी।

अक्तूबर शनि साढ़ेसाती के कारण आशा के विपरीत खर्च अधिक रहेंगी। स्वास्थ्य में नाव उसने बहेंगी। नई-नई योजनाएं बनाने में समय व्यतीत होगा। नौकरी में अफसरों से व्यर्थ का तनाव रहेगा।

नवम्बर-मासारम्भ से राहु इस राशि पर संचार करने से व्यर्थ की भागदौड़ अधिक रहे। विरोधी हानि पहुँचाने का प्रयास करेंगे। कठिनाईयों के बावजूद निर्वाह योग्य धन प्राप्ति होगी। यात्रा में परेशानियां अधिक रहेंगी।

दिसम्बर – अत्यन्त संघर्षपूर्ण परिस्थितियों में से गुजरना पड़ेगा। व्यवसाय, नौकरों की और से विघ्न-बाधाएँ उत्पन्न होंगी। परन्तु उलझनें उभरती व सिमटती रहेंगी। माता-पिता मनमुटाव रहेगा। परिवार में कुछ मनमुटाव, वैचारिक मतभेद और अपनी ही गलती से नरेशानी उत्पन्न हो।

X